Sunday, November 23, 2008

कॉलेज निदेशक पर शोषण का आरोप

दादरी स्थित आरवी नार्द लैंड इंस्टीट्यूट की छात्रा ने कालेज के निदेशक पर शारीरिक शोषण के प्रयास का आरोप लगाया है। छात्रा ने इसकी शिकायत यूपीटीयू कार्यालय में भी की है। उधर, निदेशक ने छात्रा के आरोपों को निराधार बताया है। हालांकि कॉलेज के चेयरमैन ने मामले की जांच कराने की बात कही है।

दादरी के आरवी नार्थ लैंड इंस्टीट्यूट में फार्मेसी की छात्रा ने कॉलेज के निदेशक पीके शर्मा पर आरोप लगाया है कि नंबर बढ़ाने के नाम पर निदेशक ने उसका शारीरिक शोषण करने का प्रयास किया।कॉलेज के चेयरमैन बिजेंद्र का कहना है कि इस संबंध में उन्हें जानकारी मिली है। सेशनल परीक्षाएं समाप्त होने के बाद उन्होंने छात्रों के साथ मीटिंग की थी, लेकिन उस समय किसी छात्र अथवा छात्रा ने किसी तरह की शिकायत नहीं की। इस संबंध में निदेशक से भी बात की गई है। उन्होंने इन आरोपों को गलत बताया है। उनका कहना है कि कॉलेज में छात्रों की हर माह परीक्षा ली जाती है। कई छात्र परीक्षा देने से बचते हैं। छात्रा ने भी निदेशक पर इसी वजह से आरोप लगाया दिया होगा। हालांकि उनका कहना है कि आरोपों की जांच कराई जाएगी।उधर, आरोपी निदेशक पीके शर्मा का कहना है कि छात्रों से पिछले पांच सालों के यूपीटीयू के प्रश्नपत्रों को हल कराया जा रहा है, ताकि उन्हें परीक्षा में नियत समय में प्रश्नों को हल करने में दिक्कतें न आएं। इससे कुछ छात्र खुश नहीं हैं। उनका कहना है कि आज ही सेशनल परीक्षाएं समाप्त हुई हैं। शिक्षक छात्रों की कापियां जांच कर उन्हें दिखाते हैं। इसलिए नंबरों में हेर-फेर करना संभव नहीं है। छात्रा के आरोप बेबुनियाद हैं।

1 comment:

Suresh Chandra Gupta said...

कॉलेज के चेयरमैन मामले की जांच कराने की बात कर रहे हैं. एक निष्पक्ष जांच होनी चाहिए. अगर आरोप सच पाये जाते हैं तब अपराधी को सजा मिले, और अगर आरोप ग़लत पाये जाएँ तो छात्रा को सजा मिले. यह अत्यन्त दुःख की बात है कि शिक्षा संस्थानों में ऐसी घटनाएं हो रही हैं.